Social

Fasal Bima : किसानों को मिलेगा 1700 करोड़ का फसल बीमा, यहां देखें लिस्ट |

Fasal Bima : राज्य सरकार ने लाखों किसानों को खुशखबरी दी है। राज्य सरकार ने प्रदेश के 35 लाख किसानों को पीएम फसल बीमा योजना (PM Fasal bima yojana) के तहत बीमा लाभ देने की घोषणा कर दी है। इसके तहत सरकार 1700 करोड़ रुपए का बीमा लाभ किसानों को वितरित करेगी। यह बीमा लाभ उन किसानों को दिया जाएगा जिनकी फसल इस साल जलवायु परिवर्तन के कारण असामान्य मौसम से खराब हुई है। इस साल असामान्य बारिश की वजह से किसानों की फसलों को काफी नुकसान पहुंचा। कई किसानों की पूरी-पूरी फसल बर्बाद हो गई। इस बात को ध्यान में रखते हुए प्रदेश सरकार किसानों की मदद के लिए आगे आई है और किसानों को पीएम फसल बीमा योजना (PM Fasal bima yojana) के तहत फसल नुकसान का मुआवजा देने का निर्णय लिया है।

किसानों को मिलेगा 1700 करोड़ का फसल बीमा,

यहां देखें लिस्ट

Fasal bima yojana status 2024

Fasal Bima इस साल जलवायु परिवर्तन के कारण राज्य के कई जिलों में फसल बर्बाद हुई। जिससे किसानों को भारी नुकसान का सामना करना पड़ा। राज्य सरकार ने फसल बीमा योजना को बढ़ावा दिया है जहां किसान मात्र एक रुपए फसल बीमा प्रीमियम (crop insurance premium) जमा करवा कर फसल बीमा का लाभ ले सकता है। अभी तक करीब 1.71 किसानों ने इस योजना का लाभ उठाया है। बता दें कि महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने कृषि मंत्री धनंजय मुंडे के साथ फसल बीमा प्रक्रिया (crop insurance process) में तेजी लाने के लिए पिछले महीने सभी बीमा कंपनियों के साथ बैठक की थी। इसके बाद कंपनियों ने पहले चरण में राशि वितरित करने पर सहमति जताई है।

इन किसानों के बैंक खाते में आएंगे 2000-2000 रुपये

देखिये अपना पेमेंट स्टेटस

हाल ही में कृषि मंत्री धनंजय मुंडे ने घोषणा है कि जिन किसानों की फसलें जलवायु परिवर्तन के कारण हुई असामान्य बारिश से खराब हुई है उन किसानों को बीमा लाभ दिया जाएगा। सरकार की ओर से 35 लाख किसानों को प्रथम चरण में 1700 करोड़ रुपए का बीमा लाभ दिया जाएगा। वहीं जो किसान शेष रहेंगे उनको दूसरे चरण में कवर किया जाएगा। इस तरह राज्य के किसानों को दो चरणों में बीमा लाभ दिया जाएगा। Fasal Bima

बैंक ऑफ़ बड़ोदा दे रहा है आधार कार्ड पर ₹50,000 से ₹100000 तक का लोन,

ऐसे करें अप्लाई

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button